विद्युत मंडल की वार्ड वासियों ने की सराहना, नपा की दिखावे पर उठे सवाल

विद्युत मंडल की वार्ड वासियों ने की सराहना, नपा की दिखावे पर उठे सवाल
हीरावती शहडोल। एक ओर जँहा मध्यप्रदेश विद्युत मंडल की सक्रीयता सराहनीय रही वंही दूसरी ओर निष्क्रीय एवं असंवेदनशील दिखा नगरपालिका प्रशासन मामला धनपुरी वार्ड नं. 1 आदर्श कॉलोनी का जहां लो- वोल्टेज की समस्या को दूर करने के लिए कॉलोनी में एक नया ट्रांसफॉर्मर स्थापित किया गया। 12 फरवरी को विद्युत मंडल बुढ़ार क्षेत्र अंतर्गत आने वाले आदर्श कॉलोनी, धनपुरी वार्ड न. 1 में लो-वोल्टेज की समस्या के विरोध में भाजपा नेता शैलेन्द्र श्रीवास्तव ने युवाओं एवं कॉलोनी वासियों के साथ मिलकर मध्यप्रदेश विधुत मंडल कार्यालय बुढ़ार को ज्ञापन सौंपा था और यह मांग रखी की आदर्श कॉलोनी, धनपुरी वार्ड न. 1 में लो-वोल्टेज की समस्या काफ़ी समय से है, जिसका निराकरण जल्द किया जाये। जिस पर मध्यप्रदेश विधुत मंडल बुढ़ार में पदस्थ सहायक अभियंता जितेन्द्र गुप्ता ने सक्रीयता दिखाते हुए सर्वे कराकर समस्या के निराकरण के प्रयास प्रारंभ किये। इसी क्रम में कॉलोनी में एक नया ट्रांसफॉर्मर भी स्वीकृत किया गया और आखिरकार उस ट्रांसफॉर्मर को बुधवार को कॉलोनी में स्थापित कर दिया गया। कॉलोनी वासियों ने मध्यप्रदेश विधुत मंडल की सक्रीयता की सराहना की है।

वार्ड वासियों ने नगरपालिका पर लगाया आरोप

वार्ड क्र. 1 नगर पालिका धनपुरी के वार्डवासियों ने आरोप लगाते हुए  कहा की इन दिनो जहां नपा के अधिकारी सफाई के प्रति जागरूकता दिखाते नजर आ रहे हैं वहीं वार्ड क्रमांक 1 की सफाई व्यवस्था चरमराई हुई है जिससे कहीं दलदल तो कहीं बज बजाती हुई नालिया दिखाई दे रही है। जिससे गर्मी के दिनों में मलेरिया, स्वाइन फ्लू, आदि जैसे घातक बीमारी होने की संभावना बनी रहती है अगर नगर पालिका प्रशासन ने इस ओर ध्यान नहीं दिया तो निश्चित ही वार्डवासी बीमारियों से पीड़ित हो जाएंगे। जिसे लेकर भाजपा नेता शैलेंद्र श्रीवास्तव द्वारा कई बार नगर पालिका प्रशासन का ध्यान इस ओर आकृष्ट कराया गया परंतु वाबजूद इसके नगरपालिका प्रशासन कुंभकर्णी नींद में मस्त है।
नाली निर्माण न होने के कारण दलदल मे तब्दील

आदर्श कॉलोनी, धनपुरी वार्ड नं- 1 में तहसील कार्यालय के ठीक बगल में, ग्रीन वेल्स पब्लिक स्कूल के सामने नाली निर्माण न होने के कारण कॉलोनी का पानी बहुत अधिक मात्रा में इकठ्ठा हो गया है। जिसके कारण आस पास की भूमि तेजी से दलदल में तब्दील हो रही है। जिसके कारण न सिर्फ आस पास के घरों में सीलन आ रही है बल्कि बड़ी मात्रा में कॉलोनी में मच्छरों की संख्या बढ़ रही है। जबकि सामने एक बड़े स्कूल के संचालित होने के कारण ये समस्या और भी भयावह रूप धारण कर सकती है और स्कूल में अध्ययनरत हजारों बच्चे मलेरिया व डेंगू जैसी खतरनाक बीमारियों से प्रभावित हो सकते है।
शैलेंद्र श्रीवास्तव ने ज्ञापन सौप कर की मांग

हाल में ही भाजपा नेता शैलेन्द्र श्रीवास्तव ने धनपुरी नगरपालिका प्रशासन को ज्ञापन देकर कॉलोनी में मलेरिया एवं डेंगू जैसी खतरनाक बीमारियों के फैलने के खतरे से आगाह किया था एवं नगरपालिका प्रशासन को इस बात को गंभीरता से लेते हुये कॉलोनी के इस भाग में नाली निर्माण करा कर पानी के निकासी की समुचित व्यवस्था करने की मांग की थी। जबकि कॉलोनी वासियों के कहना है कि सामने एक बड़े स्कूल एवं ठीक बगल में तहसील कार्यालय होने के बावजूद तहसील एवं नगरपालिका प्रशासन का आंखे बंद है यह समझ से परे है। ऐसा प्रतीत होता है कि जैसे प्रशासन खुद कॉलोनी में किसी महामारी के फैलने का इंतज़ार कर रहा है।

शैलेंद्र श्रीवास्तव ने लगाए आरोप

साहब सफाई व्यवस्था का जायजा लेते हुये समाचार पत्रों में तो रोज दिखाई दे रहे हैं। पर मैं इससे इत्तफाक नहीं रखता, वास्तविकता में हकीकत इससे अलग है। समाचार पत्रों में सक्रीय दिख रहे सीएमओ साहब को धनपुरी वार्ड नं. 1 की यह ज्वलंत समस्या क्या प्राथमिकता में रखने योग्य नहीं लगती? एक समाचार पत्र में उनका बयान भी छपा है कि – उक्त समस्या की जानकारी उन्हें है जल्द सफाई कराई जायेगी। मैं जानना चाहता हूँ कब ? मेरे द्वारा व समाचार पत्रों के द्वारा जल भराव की इस समस्या को लगातार उठाये जाने के बाद भी नगरपालिका प्रशासन सिर्फ बयान देकर अपना काम चला ले रहा है। यही नहीं ठीक बगल में बुढ़ार तहसील कार्यालय भी है फिर भी इस तरह से इस विषय को नजरअंदाज किया जाना मेरी समझ से परे है।